Gangubai Kathiawadi Real Story | गंगूबाई काठियावाड़ी की असली कहानी । Trending News

Gangubai Kathiawadi real story: Real story पर आधारित फिल्म गंगूबाई काठियावाड़ी (Gangubai Kathiawadi) सिनेमा घरों में 25 फरवरी 2022 को संजय लीला भंसाली के निर्देशन में रिलीज़ होने वाली है जो एक किताब ‘माफिया क्वीन इन मुंबई’ पर बनाई गयी है, जिसका नाम है ‘ गंगूबाई काठियावाड़ी’।

Alia bhatt as Gangubai

इस फिल्म की मुख्य भूमिका में आलिया भट्ट नजर आ रही है जो गंगूबाई का किरदार निभा रहीं है और screen पर साथ दे रहे है अजय देवगन और शांतनु माहेश्वरी। इस फिल्म का trailer रिलीज हो गया है और social media पर धूम मचा रखी है।

कौन है असली गंगुबाई काठीवाड़ी? Who is Real Gangubai Kathiawadi? (Gangubai Kathiawadi real story)

दोस्तो आज हम आपको आगे बताएंगे की real Gangubai कौन थी? कन्हा की रहने वाली थी? किसके साथ गंगुबाई की शादी हुई थी? आईए जानते है कौन थी असली कहानी:

Gangubai Kathiawadi real story: गंगूबाई का जन्म 1939 में गुजरात के काठीवाड़ के एक संपन्न घराने में पैदा हुई जिनका असली नाम ‘गंगा हरजीवनदास’ था। Ganga बचपन से ही अभिनेत्री बनाना चाहती थी वो Hema Malini और Asha Parekh को पसंद करती थी और उन्हीं की तरह ही bollywood में नाम कमाना चाहती थी।

संछिप्त विवरण:

नामगंगुबाई काठियावाड़ी
असली नाम गंगा हरजीवनदास
जन्म दिवस 1939 (काठियावाड़/गुजरात)
माता का नाम
पिता का नाम
पति का नाम रमणीक लाल
मृत्यु2008 (मुंबई)

गंगा के जीवन तब मोड़ आया जब ओ अपने पिता के ऑफिस के accountant से प्यार करने लगी जिसका नाम रमणीक लाल था। घरवालें इस रिश्ते से नाराज़ थे इसलिए 16 साल की उम्र में गंगा रमणीक के साथ शादी करके मुंबई भाग गई, जो उसके सपनों का शहर था ।

Real photo of Gangubai

गंगा को कुछ दिनों बाद रमणीक ने धोका दिया। उसने गंगा से कहा के कुछ दिनों के लिए वो उसके मौसी के घर पर रहे और गंगा उनके साथ चली गयी, पर वो रमणीक की मौसी नहीं बल्कि एक दलाल थी, जिसे महज 500/- रुपये के लिए रमणीक ने गंगा को बेचा था और इस तरह गंगा Mumbai के सबसे बड़े वेश्यालय ‘कामाठीपुरा’ में पहुंच गयी । (Gangubai Kathiawadi real story)

गंगा ने अपने ऊपर होने वाले जुल्मों का बहुत विरोध किया, रोइ चिल्लाई, पर उसे सुननेवाला वहाँ कोई नहीं था उसकी जिंदगी अब नरक बन चुकी थी और अब तक गंगा परिस्थिति स्वीकार कर ली और इस तरह गंगा हरजीवनदास अब ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ बन गयी थी। आप पढ़ रहे हैं Gangubai Kathiawadi real story।

गंगुबाई ने किसको अपना भाई बनाया?

आप को बता दे की गंगुबाई की मुलाकात एक दिन शौकत खान (Shoukat Khan) नाम पठान से हुई जिसने गंगूबाई से बहुत बुरा बर्ताव किया और बिना पैसे दिए ही वो चला गया। ओ बार बार आने लगा और गंगुबाई से बदसलूकी और मार पीट भी करने लगा था जिसके परिणामस्वरूप गंगुबाई को अस्पताल में भर्ती करना पड़ा था ।

अब गंगुबाई भी इनकी बदसलूकी सहते सहते ऊब चुकी थीं और फिर बदला लेने की ठान ली और उसकी पूरी जानकारी निकाली, तब उसे पता चला के वो करीम लाला की गैंग का आदमी है । उसके बाद वो सीधा करीम लाला से मिलने पहुंच गयी और उसको सब आप बीती बताई, और उनको राखी बांध के भाई बनाया । कुछ दिन बाद फिर से शौकत खान गंगूबाई के कोठे पर पंहुचा, इसकी खबर गंगूबाई ने करीम लाला को किसी तरह पहुचाई और करीम लाला ने वहां आकर सबके सामने उसको खूब मारा और धमकी दी कि अगर किसी ने गंगूबाई को हाथ लगाने की कोशिश की तो उसका अंजाम बुरा होगा। आप पढ़ रहे हैं Gangubai Kathiawadi real story।

गंगुबाई कैसे गंगूमाँ बनी?

करीम लाला की बहन होने के कारण कामाठीपुरा की कमान गंगूबाई के हाथ में आ गई। गंगूबाई कभी किसी लड़की को उसकी मर्जी के ख़िलाफ़ कामाठीपुरा में नहीं रखा । गंगुबाई वहा रहने वाली सभी लड़कियों का खास ख्याल रखती थी जैसे उनका मेडिकल चेकअप करवाना, सेहत का ध्यान रखना और वृद्ध महिलाओं को ख़र्चे के लिए पेंशन देना आदि।

उनके इसी अच्छे काम के कारण सब लोग उन्हें मानते थे और अब कोई बड़े से बड़ा माफिया और डॉन उनकी मर्जी के बिना कामाठीपुरा में कदम नहीं रख सकता था । गंगूबाई ने sex worker के अधिकारों के लिए और अनाथ बच्चों के लिए बहुत काम किया । उन्होंने कई बच्चो को गोद लिया और उनके शिक्षा और परवरिश की पूरी जिम्मेदारी ली जिसके कारण अब बच्चों और लड़कियों के लिए वो ‘गंगूमाँ’ बन गयी थी।

Sex Worker के अधिकारों के लिए उन्होंने मुंबई के आज़ाद मैदान में दिया गया भाषण तब के अखबारों में भी प्रसिद्ध हो गया था इसलिये आज भी कमाठीपुरा के हर कोठे पर गंगूबाई की तस्वीर है । गंगुबाई ‘कामाठीपुरा’ के लड़कियों के अधिकार और हक़ के लिए वह तब के प्रधानमंत्री पंडित नेहरू से भी मिली थी। गंगुबाई की मृत्यु सन् 2008 में एक साधारण व्यक्ति की तरह ही हुई थी। ऐसा बताया जाता है की पर जब मृत्यु हुई भारत के सब कोठों पर मातम छाया हुआ था ।

तो दोस्तों ये थी गंगुबाई की कहानी (Gangubai Kathiawadi real story)। आपको कैसे लगी comment में जरूर बताएं। धन्यवाद

ये भी पढ़ें:

Monalisha hot photoshoot I मोनालिसा का बोल्ड अवतार, देख के हैरान हो जाओगे आप । Trending News

3 thoughts on “Gangubai Kathiawadi Real Story | गंगूबाई काठियावाड़ी की असली कहानी । Trending News”

Leave a Comment